द लेजेंड ऑफ मौला जट्ट इंडिया की रिलीज डेट को लेकर विवाद

द लेजेंड ऑफ़ मौला जाट विवाद: पूरी दुनिया में अपनी सफलता से नाम कमा रहा पाकिस्तान की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म ‘द लीजेंड ऑफ मौला जट्ट’ की भारत में रिलीज की खबरें सामने आई थीं। फिल्म की कहानी इतनी दमदार है कि देश-विदेश हर तरफ इसकी सराहना हो रही है। लेकिन अब इसकी भारत की रिहाई पर बवाल खड़ा हो गया है। यहां तक ​​की महाराष्ट्र नवनिर्माण की सेना के एक नेता ने इसकी रिलीज को लेकर रैकेट भी डाला है।

पाकिस्तान अभिनेता फवाद खान वे बेहतरीन अभिनेता से हैं जो भारतीय फैंस के फेवरेट हुए थे। उन्होंने बॉलीवुड की कई फिल्मों में भी काम किया है और भारत में भी अपनी एक्टिंग की खूब सरहाना की। आज भी उनके भारतीय फैंस उन्हें फिल्मों में देखते हैं। हालांकि अब उनकी बॉलीवुड में नजर आने वाली मुमकिन नहीं लग रही हैं। लेकिन हर तरफ ‘द लेजेंड ऑफ मौला जट्ट’ की वाहवाही सुनने के बाद जब इस फिल्म की भारत रिलीज की खबर सामने आई तो उनके भारतीय फैंस में खुशी की लहर दौड़ती दिखाई दी। लेकिन हाल ही में लेकर खबरों के मुताबिक इस फिल्म को काफी बवाल हो गया है।

अपनी अस्वाभाविक परचम दांवने वाली फिल्म ‘द लेजेंड ऑफ मौला जट्ट’ भारत की रिलीज की बात महाराष्ट्र नवनिर्माण की सेना के एक नेता अमेय खोपकर को रास नहीं आई। वहीं अपने एक बयान में खोपकर ने खतरा डाला है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी पाकिस्तान की फिल्म ‘द लेजेंड ऑफ मौला जट्ट’ को भारत में रिलीज नहीं होगी। महाराष्ट्र नवनिर्माण के अध्यक्ष राज ठाकरे के आदेश से इन फिल्मों को भारत में कहीं भी रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। उसी समय खोपकर ने अपने एक ट्वीट के जरिए फवाद खान के प्रशंसकों को ताना दिखाते हुए उन्हें देशद्रोही का टैग भी दे दिया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘फवाद के फैंस, देशद्रोही पाकिस्तान जाकर उनकी फिल्म देख सकते हैं।’

द लीजेंड ऑफ मौला जाट दुनिया भर में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली पहली पंजाबी फिल्म बन गई है। पाकिस्तान के इतिहास में ये सबसे मोटे बजट की फिल्म है। इस फिल्म में फवाद खान सहित घायला खान, हमजा अली अब्बासी और हुमैमा मलिक की मुख्य जांच में नजर आ रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस फिल्म ने अबतक 250 करोड़ का बिजनेस कर लिया है।

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्ट फोन समीक्षा और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले विशेष रूप से दोस्ती करने के लिए 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें

amar-bangla-patrika

You may also like